रक्षाबंधन 2018 @ सावनेर

अदासा वृद्धाश्रम के अध्यक्ष प्रदीप चन्दनबटवे को रक्षा सूत्र बाँधते हुए बी के सुनीता बहन 

 

मुख्याधिकारी संघमित्रा ढोके को रक्षा सूत्र बाँधते हुए बी के प्रियंका बहन

उपविभागीय अधिकारी बहन वर्षारानी भोसले जी को राखी बाँधते हुए बी के प्रियंका बहन

२४ जून – मातेश्वरी जगदंबा स्मृति दिन

२४ जून – मातेश्वरी जगदंबा स्मृति दिन

ब्रह्माकुमारी संस्थान की प्रथम मुख्य प्रशासिका मातेश्वरी जगदम्बा सरस्वती मम्मा का 53वां पुण्य स्मृति दिवस मनाया गया। रविवार को आयोजित कार्यक्रम में देशभर से पधारे लोगों ने श्रद्धासुमन अर्पित किए कर उनके द्वारा किए गए कार्यों को याद किया। आप कठिन योग-तपस्या से संपूर्णता की स्थिति को प्राप्त कर 24 जून 1965 को 46 वर्ष की आयु में अव्यक्त हो गईं थीं। तब से लेकर इस दिन ब्रह्माकुमारीज के देश-विदेश के सभी सेवाकेंद्रों पर विशेष योग-तपस्या के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

प्रजापिता ब्रह्मकुमारिज ईश्वरीय विश्व विद्यालय सेवाकेंद्र सावनेर की संचालिका ब्रह्माकुमारी सुरेखा दीदी ने कहा कि मम्मा ममता और त्याग-तपस्या की साक्षात् मूरत थीं। आपका गंभीर स्वभाव और ममतमयीं गुणों ने सभी को अपना बना लिया। मम्मा रात में 2 बजे से जागकर योग-तपस्या करती थीं। आपमें योग और ईश्वरीय ज्ञान के प्रति लगन के चलते संस्था के साकार संस्थापक ब्रह्मा बाबा ने आपको इस ईश्वरीय विश्व विद्यालय की प्रथम मुख्य प्रशासिका नियुक्त किया। मम्मा ने इस जिम्मेदारी को बखूबी निभाया और उनकी ही योग-तपस्या का कमाल है जो आज ये संगठन विशाल वटवृक्ष बन गया है। आप इस रुहानी सेना की एक आदर्श, प्रेरणास्रोत कमांडर थीं। उन्होंने कहा कि मम्मा का व्यक्तित्व योग-साधना से इतना प्रभावशाली हो गया था कि जो भी उनके सामने आता था वह उनमें मां की अनुभूति करता था। इसीलिए छोटे-बड़े सभी उन्हें प्यार से मम्मा कहकर पुकारते थे। साथ ही योग के माध्यम से विश्व में शांति और सद्भावना के प्रकम्पन फैलाए। 20180624_091736

 

 

 

21 जून – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

21 जून – अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

         प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय सेवाकेंद्र सावनेर की और से विश्व योग दिवस के उपलक्ष्य में राजयोग एवं योगाभ्यास कार्यक्रम का आयोजन किया गया .

        वर्तमान  अशांति की जंजीरों में जकडे विश्व में व्याप्त नकारात्मक उर्जा , बढ़ती हिंसा ,आसमान छुती महंगाई , अनाचार , दुराचार , अत्याचार , प्राकृतिक आपदाये , पारिवारिक, सामाजिक , देशीय व अन्तर्राष्ट्रीय समस्याओं की चक्की में पिसते मनुष्य को राहत पहुँचाने के लिए एकमात्र उपाय है राजयोग का अभ्यास .उक्त उद्गार सावनेर सेवाकेंद्र की संचालिका ब्रह्माकुमारी सुरेखा ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिन के उपलक्ष्य में उच्चारे है.

        कार्यक्रम का उद्घाटन सावनेर नगराध्यक्ष्य रेखाताई मोवाड़े ,पत्रकार मनोहर घोलसे एवं दीदीजी के हस्ते दीप प्रज्वलन करके हुवा उपस्थित भाई बहनों ने प्राणायाम और शारीर स्वास्थ्य के लिए योगाभ्यास भी  किया .

20180621_060031

नागपुर- सावनेर में हुआ ‘खुशियों का बिग बाज़ार’ का आयोजन

नागपुर- सावनेर में हुआ खुशियों का बिग बाज़ार – वाह जिन्दगी वाह भव्य कार्यक्रम का आयोजन !!!


भव्य प्रोग्राम का आयोजन इस कार्यक्रम में प्रमुख वक्ता के रूप में इंटरनेशनल माइंड एंड मेमोरी ट्रेनर राजयोगी ब्रह्मकुमार शक्तिराज जी ने बताया कि मैडिटेशन से मन में दिव्य शक्तियों का संचार होता है | मैडिटेशन मन को कण्ट्रोल करने की ऐसी तकनीक है जिससे हम अपने विचारों को सकारात्मकता से भर सकते है |
हमारे जीवन की खुशियों का रिमोट कण्ट्रोल हमारे हाथ में न कि किसी दूसरे के हाथ में | उन्होंने प्रैक्टिकल डेमो करके बताया आप कैसे अपने जीवन खुशियों से भरपूर कर सकते है,उन्होंने बताया कि आप सफलता से सिर्फ एक संकल्प दूर है ,इस प्रोग्राम का विशेष आकर्षण आउट ऑफ़ बॉडी का दिव्य अनुभव था जहाँ पर प्रोग्राम में आये लोगो ने सभी के सामने अपनी गलती को कबूला और सभी ने स्वीकार किया कि आज के बाद हम किसी को दुःख नहीं देंगे |
सावनेर विधानसभा के विधायक सुनील बाबूजी केदार ने अपने उद्बोधन में कहा की समय की आवश्यकता है की अपने मन को सकारात्मक विचारों से सशक्त करे | अपने मन की दिव्य शक्तियों को मैडिटेशन से उजागर करे |
नागपुर क्षेत्र की संचालिका आदरणीय राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी रजनी दीदीजी ने अपने आशीर्वचन में कहा की खुशियों का कोई मोल नहीं होता | छोटे बच्चों से लेकर बूढ़े इन्सान तक इसकी जरुरत है | कहाँ यह ख़ुशी मिलाती है का प्रश्न शायद यहाँ ही समाप्त होता है शक्तिराज सिंह तो आपको खुशियों की वो टेक निक बताएँगे और पर्मनंट खुशियों का बिग बाज़ार तो हमारा सेवाकेंद्र है | खुशियों का स्त्रोत तो परमपिता परमात्मा है |
सेवाकेंद्र संचालिका ब्रह्माकुमारी सुरेखा बहन ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कार्यक्रम की प्रस्तावना में कहा की जीवन म कुशियों का आधार ही है राजयोग मैडिटेशन | मैडिटेशन से आत्मा की सूप्त शक्तिया जागृत होती है और जीवन हल्का महसूस होने लगता है |
कार्यक्रम में उद्घाटक के रूप से आमदार सुनील बाबूजी केदार, उपक्षेत्रीय अधिकारी भ्राता आर एस सिंह , नगराध्यक्षा बहन रेखाताई मोवाड़े , क्षेत्र के गणमान्य नागरिक तथा हजारो भाई बहनों ने इसका लाभ लिया और कई भाई बहनों ने राजयोग मैडिटेशन सेवाकेंद्र पर जाकर राजयोग करने का संकल्प पत्र भर कर दिया |
कार्यक्रम की 3 दिवसीय कार्यक्रम में युवा वर्ग के लिए और स्कूल के बच्चो के लिए भी प्रोग्राम का आयोजन किया जिसमें विभिन्न स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थी , टीचर्स , प्रिंसिपल्स ने इस प्रोग्राम का लाभ लिया|

खुशियों का बिग बाज़ार -वाह जिन्दगी वाह !!! LIVE Program

[wd_contact_form id=”11″]

खुशियों का बिग बाज़ार -वाह जिन्दगी वाह !!!

सावनेर में मन की दिव्य शक्तियों का सेमिनार का आयोजन

14 नोव्हेंबर -सावनेर स्थित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की ओर से  18 नोव्हेंबर  से 20 नोव्हेंबर

समय शाम 6 से 8.30 बजे तक राम गणेश गडकरी नाट्य सभागृह में 3 दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया है |

इस सेमीनार में 19 नोव्हेंबर रविवार समय सुबह 10.30 से 12.30 तक युवाओ के लिए सुपर माइंड सुपर फ्यूचर और 20 नोव्हेंबर सोमवार समय सुबह 10.30 से 12.30 तक स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए डबल योर माइंड पॉवर सेमिनार का आयोजन किया है |

आज के इस स्पर्धा के युग में खास विद्यार्थियों के लिए और साथ ही पुरे परिवार के लिए तनाव से मुक्ति, सफलता पाने की चावी, व्यापर में वृद्धी परीक्षाओं का डर, खुशहाल जीवन कैसे बनाये इस पर बहुत ही जीवन उपयुक्त मार्गदर्शन नि:शुल्क  किया जायेगा |

प्रमुख वक्ता के रूप में माउंट आबू , राजस्थान से ब्रह्मकुमार शक्तिराज सिंह जो की प्रख्यात अंतर्राष्ट्रीय मोटीवेशनल मेमोरी एंड माइंड ट्रेनर है | ऐसे शिविर में बड़े पैमाने पर उपस्थित रहकर अपने जीवन को सकारात्मक विचारों से भरकर इसका लाभ लेने का आवाहन सावनेर ब्रह्माकुमारिज सेवाकेंद्र की संचालिका   ब्रह्माकुमारी सुरेखा दीदी की और किया गया है|

IMG-20171113-WA0036

 

IMG-20171114-WA0012

IMG-20171114-WA0019

IMG-20171114-WA0020

नवरात्र महोत्सव – सावनेर

चैतन्य नवदुर्गा दर्शन झांकी

navdurga123

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय सेवाकेंद्र सावनेर द्वारा बस स्टैंड परिसर में चैतन्य नवदुर्गा दर्शन सजीव झांकी का आयोजन किया गया था . कार्यक्रम के उदघाटन पर उपविभागीय अधिकारी बहन वर्षारानी भोसले , बहन संघमित्रा धोके मुख्याधिकारी नगर परिषद् सावनेर,  बहन रेखाताई मोवाड़े  नगराध्यक्षा नगर परिषद् सावनेर , भ्राता अरविंद लोधी उपनगराध्यक्ष सावनेर आदी मान्यवर उपस्थित थे . मान्यवरों के हस्ते झांकी का दीप प्रज्वलन करके उद्घाटन किया गय.

ब्रह्माकुमारी सुरेखा दीदी ने अपने प्रवचन में कहा की जब नारी स्वयं को पहचान कर स्रुष्टि परिवर्तन के आदिकाल में सर्व शक्तिमान “शिव ” से “शक्ति ” लेकर संसार से दुःख , अशांति , भय , असुरक्षा को मिटाती है . केवल भारत को ही नहीं समस्त संसार को स्वर्णिम बनाने वाली यह भारत माताये ही  ” शिवशक्ति ” अवतार है .